नैनोटेक्नोलाजी सर्फेस के गुणों को बदलती है।

यू- वी पीड़क

हानिकारक यू- वी विकिरण का सब्स्ट्रेट पर और उसके अंदर के प्रकाश से संवेदनशील सामग्री पर नकारात्मक प्रभाव हो सकता है और उनका हमेशा के लिए नुक्सान कर सकता है।उदाहरणार्थ प्लास्टिक के सतहों पर यू- वी विकिरण का इतना बड़ा प्रभाव हो सकता है, की ये सतह खुरच जाते हैं और उनके अंदर के सक्रिय एजेंट या औषधि पर भी प्रभाव होता है।

यू- वी पीड़ित परतें यू- वी प्रकाश के खिलाफ प्रभावी सुरक्षा की गारंटी देते हैं। यह इस तरह हासिल किया जाता है, की यू- वी रेंज में शोषक या परावर्तक परत यू- वी विकिरण का प्रसारण न्यूनतम परिमाण तक कम करती है।

  • यू- वी विकिरण के खिलाफ प्रभावी सुरक्षा
  • घटकों और प्रकाश से संवेदनशील सामग्री की सुरक्षा
  • प्लास्टिक के संक्षरण के खिलाफ सुरक्षा (सरंध्रता और भंगुरता)